Trending Now

0 कांग्रेस नेता को बचाने का लगा आरोप

महासमुंद। जिले के एक थाने में पदस्थ टीआई को अपनी कुर्सी गंवानी पद गई। दरअसल टीआई ने रेप के एक मामले में पीड़िता की FIR दर्ज करने में टालमटोल की। जिसके बाद पीड़िता SP से शिकायत कर दी। SP ने भी देर नहीं की और तत्काल कार्रवाई करते हुए टीआई को ससपेंड कर दिया। इधर कार्रवाई की खबर मिलते ही आनन-फानन में FIR दर्ज की गई और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।

FIR के नाम पर थाने में घंटों बिठाया

जानकारी के मुताबिक, दुष्कर्म की पीड़िता FIR दर्ज कराने के लिए कोमाखान थाना पहुंची थी। उसने कांग्रेस नेता उत्तम राणा के ऊपर दुष्कर्म का आरोप लगाया था, मगर उसे काफी देर बिठाने के बावजूद FIR नहीं लिखी गई। पीड़िता ने इसकी शिकायत टीआई शैलेन्द्र नाग से की, मगर उन्होंने भी पीड़िता को चलता कर दिया।

एसपी से मिलकर की शिकायत

पीड़ित युवती ने FIR दर्ज नहीं होने पर सीधे एसपी आशुतोष सिंह से मुलाकात की और कोमाखान थाने के टीआई के खिलाफ शिकायत करते हुए उसकी FIR दर्ज करने की मांग की। इस शिकायत पर SP काफी नाराज हुए और उन्होंने अपने अधीनस्थों को तत्काल टीआई के खिलाफ जांच का आदेश दे दिया। टीआई द्वारा FIR दर्ज नहीं करने की पुष्टि होने के बाद एसपी ने तत्काल प्रभाव से टीआई शैलेन्द्र नाग को सस्पेंड कर दिया।

आनन-फानन में की गई कार्रवाई

इधर, जब पीड़िता द्वारा प्रकरण की शिकायत एसपी से किये जाने और टीआई पर गाज गिरने की जानकारी कोमाखान थाने में पहुंची तब आनन-फानन में मामले में FIR दर्ज किया गया और आरोपी कांग्रेस नेता उत्तम राणा गिरफतार भी कर लिया गया। पुलिस द्वारा इस प्रकरण में विधिवत कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

 

error: Content is protected !!