Trending Now

रायपुर। राजधानी के आरंग में मॉब लिंचिंग में 3 युवाओं की हत्या हुई थी। इस मामले में SIT ने दूसरे आरोपी राजा अग्रवाल को छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र बॉर्डर के देवरी से गिरफ्तार किया है। झलप निवासी राजा एक हफ्ते से छिपा था और भागने की फिराक में था। जिसे SIT की टीम ने दबोच लिया। इससे पहले शनिवार को शनिवार को आरोपी हर्ष मिश्रा को दुर्ग से अरेस्ट किया गया था।

क्राइम सीन रिक्रिएट कराएगी पुलिस

छत्तीसगढ़ मॉब लिंचिंग मामले में रविवार को SIT ने दूसरे आरोपी राजा अग्रवाल को छत्तीसगढ़-महाराष्ट्र बॉर्डर के देवरी से गिरफ्तार किया है। झलप निवासी राजा एक हफ्ते से छिपा था और भागने की फिराक में था। अब SIT की टीम आरोपी हर्ष मिश्रा और राजा अग्रवाल को घटना स्थल पर ले जाकर क्राइम सीन रिक्रिएट कराएगी। इससे पहले, शनिवार को आरोपी हर्ष मिश्रा को दुर्ग से अरेस्ट किया गया था।

SIT की टीम आरोपी हर्ष मिश्रा और राजा अग्रवाल को घटना स्थल पर ले जाकर क्राइम सीन रिक्रिएट कराएगी। वारदात के करीब 15 दिन बाद पहली और 16वें दिन दूसरी गिरफ्तारी हुई है। मामले की जांच के लिए रायपुर SSP ने SIT का गठन किया है। स्पेशल जांच टीम में रायपुर ग्रामीण एडिशनल एसपी कीर्तन राठौर समेत 14 पुलिस अफसर शामिल हैं।

गौरतलब है कि रायपुर के आरंग क्षेत्र में 7 जून की रात मवेशियों से भरा ट्रक लेकर 3 युवक जा रहे थे। इसी दौरान 10-12 लड़कों ने पीछा कर ट्रक रुकवा लिया। इसके बाद तीनों युवकों की बेरहमी से पिटाई की। इसमें एक युवक चांद मियां का शव महानदी में मिला। पुलिस ने बाकी दोनों घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां उपचार के दौरान दूसरे युवक गुड्डू खान और तीसरे युवक सद्दाम ने भी उपचार के दौरान दम तोड़ दिय। तीनों युवक सहारनपुर उत्तरप्रदेश के रहने वाले थे। आरोप है कि गौ-तस्करी के शक में तीनों को पीट-पीटकर मार डाला गया।

error: Content is protected !!