Trending Now

राजनांदगांव। नक्सलियों द्वार वसूले गए लेव्ही के पैसे से खरीदे गए ट्रैक्टर को मोहला-मानपुर पुलिस ने जब्त किया है। पिछले दिनों कांकेर जिले के छोटे बेठिया में हुए मुठभेड़ में जेसीबी खरीदी का मामला सामने आया था। इसी तरह का मामला मोहला-मानपुर में भी पुलिस तक पहुंचा। काफी तफ्तीश के बाद पुलिस ने एक सड़क ठेकेदार, पंचायत सचिव, ट्रैक्टर कंपनी के एजेंट और ट्रैक्टर का संचालन कर रहे कुल चार सहयोगियों को गिरफ्तार किया है।

राजनांदगांव रेंज के आईजी दीपक झा और मोहला-मानपुर-अं. चौकी एसपी वाईपी सिंह ने मंगलवार दोपहर को एक प्रेसवार्ता में पुलिस की गिरफ्त में आए नक्सलियों के चार सहयोगियों को मीडिया के सामने पेश किया। सहयोगियों के बताए बयान के आधार पर आईजी और एसपी ने जानकारी देते बताया कि पुलिस को ठेकेदार से लेव्ही के बदले ट्रैक्टर खरीदने की जानकारी मिली। पुलिस को पता चला कि मदनवाड़ा क्षेत्र का अरविंद तुलावी एक ट्रैक्टर का उपयोग कर रहा है।

ठेकेदार के जरिये खरीदा ट्रेक्टर

अरविंद तुलावी से जब ट्रैक्टर के दस्तावेज मांगे गए तो कोई जानकारी नहीं दी गई। इसके बाद ट्रैक्टर जब्त किया गया। जांच में ये पता चला कि नक्सली क्षेत्र में रोड और पुल पुलिया बनाने वाले ठेकेदार रामकिशन यादव ने राजनांदगांव में गाड़ी शो रूम में 7 लाख 50 हजार रुपये कैश जमा किया गया और ट्रैक्टर लिया। ट्रैक्टर नक्सलियों के पैसों से खरीदा गया था। ट्रैक्टर से मिलने वाली अर्निंग नक्सलियों को भेजी जाती थी। इस आधार पर पुलिस ने अरविंद तुलावी के जरिये ठेकेदार और ट्रैक्टर एजेंट सुशील साहू को जन सुरक्षा अधिनियम के तहत हिरासत में लिया।

पंचायत सचिव की भूमिका हुई उजागर

पूछताछ के दौरान मानपुर के रहने वाले पंचायत सचिव महेश मेश्राम की भी भूमिका सामने आई। ठेकेदार यादव और पंचायत सचिव मेश्राम के साथ मिलकर ट्रैक्टर खरीदने का इंतजाम किया गया था। पुलिस को सूचना थी कि सचिव मेश्राम का मोहला-मानपुर क्षेत्र में सक्रिय बड़े नक्सल नेताओं से संबंध रहा है।

जिसके नाम पर ट्रेक्टर खरीदा उसे मालूम ही नहीं

आईजी और एसपी ने बताया कि सचिव मेश्राम का लंबे समय से माड़ क्षेत्र में आना-जाना था। नक्सलियों के कहने पर एक फर्जी दस्तावेज सहयोगियों द्वारा तैयार किया गया। एक गरीब आदिवासी के नाम पर फर्जी दस्तावेज के जरिये 2019 में नक्सलियों के लिए ट्रैक्टर खरीदा गया। दिलचस्प बात यह है कि उक्त व्यक्ति को ट्रैक्टर खरीदी के संबंध में कुछ भी मालूम नहीं था।

सचिव का बड़े नक्सलियों से संपर्क

मोहला-मानपुर-अं. चौकी पुलिस ने सचिव महेश मेश्राम का नक्सलियों के बड़े लीडर बल्देव उर्फ अशोक रेड्डी, विजय रेड्डी उर्फ शंकर, लोकेश सलामे उर्फ हरसिंग के साथ संबंध होने का दावा किया है।

पुलिस ने ट्रैक्टर के साथ 8750 रुपए नगद नक्सलियों के उपयोग किये जाने वाले 10 जोड़ी जूते, मेमोरी कार्ड 4 जीबी, पेनड्राईव 4 जीबी तथा नक्सलियों की चिट्ठी व पैसे के हिसाब-किताब की कापी व अन्य दस्तावेज बरामद किये हैं। मोहला-मानपुर पुलिस को सहयोगियों से अन्य महत्वपूर्ण सूचनाएं भी मिली है। जल्द ही पुलिस इस आधार पर नक्सलियों के खिलाफ जारी ऑपरेशन में महत्वपूर्ण खुलासा करेगी।

error: Content is protected !!