Trending Now

Kuwait Building Fire: दुबई। कुवैत के मंगाफ शहर में श्रमिकों के आवास वाली एक इमारत में भीषण आग लग गई। हादसे में 40 भारतीयों समेत 49 लोगों की मौत की खबर है। जबकि 30 से ज्यादा लोग जख्मी बताए जा रहे हैं। ज्यादातर मौतें दम घुटने से हुई हैं। मरने वालों में 5 लोग केरल के रहने वाले थे। अधिकारियों ने बताया कि आग बुधवार तड़के कुवैत के दक्षिणी अहमदी गवर्नरेट के मंगाफ क्षेत्र में स्थित छह मंजिला इमारत के रसोईघर में लगी। कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।

अधिकारियों ने बताया कि कुवैत के दक्षिणी अहमदी गवर्नरेट के मंगाफ क्षेत्र में स्थित छह मंजिला इमारत के रसोईघर में लगी। इमारत में करीब 160 लोग रहते थे, जो एक ही कंपनी के कर्मचारी हैं। वहां रहने वाले कई कर्मचारी भारतीय हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, जिस बिल्डिंग में आग लगी, वो मलयालयी बिजनेसमैन केजी अब्राहम के NBTC ग्रुप की है। बिल्डिंग में करीब 160 लोग रहते हैं। मारे गए लोग इसी कंपनी में काम करते थे। रिपोर्ट के मुताबिक, केजी अब्राहम केरल के तिरुवल्ला के बिजनेसमैन हैं। उनकी कंपनी 1977 से कुवैत की ऑयल एंड इंडस्ट्रीज का हिस्सा है।

किचन में लगी आग भड़की

‘कुवैत टाइम्स’ की खबर के अनुसार, हादसा भारतीय समयानुसार बुधवार सुबह करीब 6 बजे हुआ। रिपोर्ट के मुताबिक, ग्राउंड फ्लोर की किचन में लगी आग तेजी से 6 मंजिला बिल्डिंग में फैल गई। ऐसे में लोग अंदर फंस गए। बिल्डिंग में ज्यादातर प्रवासी मजदूर रहते हैं। बताया जा रहा है कि कई लोग अवैध तरीके से भी रह रहे थे। बताते चलें कि कुवैत की कुल जनसंख्या में 21% (10 लाख) भारतीय हैं। वर्कफोर्स में ये 30% (लगभग 9 लाख) हैं।

भारत के राजदूत घायलों से मिले

कुवैत में भारत के राजदूत आदर्श स्वैका ने अल-अदन अस्पताल का दौरा किया, जहां आग की घटना में घायल हुए 30 से अधिक भारतीय लेबर को भर्ती कराया गया है। उन्होंने कई मरीजों से मुलाकात की और उन्हें दूतावास की ओर से पूरी सहायता का आश्वासन दिया। अस्पताल अधिकारियों ने बताया कि लगभग सभी की हालत स्थिर है।

बिल्डिंग के मालिक को गिरफ्तार करने का आदेश

कुवैत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कुवैत के आंतरिक मंत्री शेख फहाद अल-यूसुफ अल-सबाह ने पुलिस को मंगाफ बिल्डिंग के मालिक को गिरफ्तार करने का आदेश दिया है. साथ ही बिल्डिंग के चौकीदार और घटनास्थल पर आपराधिक साक्ष्य कर्मियों की जांच पूरी होने तक श्रमिकों तक श्रमिकों के लिए जिम्मेदार कंपनी के मालिक को भी गिरफ्तार करने का आदेश दिया है.

मंत्री ने आग लगने की जगह का दौरा करने के बाद एक बयान में कहा, ‘आज जो कुछ हुआ, वह कंपनी और बिल्डिंग मालिकों के लालच का नतीजा है।’ उन्होंने भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए सभी तरह के सुरक्षा आवश्यकताएं पूरी करने का आदेश दिया है।

error: Content is protected !!