Trending Now

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव को लेकर जारी गिनती के बीच पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने टीडीपी के चीफ एन चंद्रबाबू नायडू से आगे की रणनीति को लेकर बात की।

कांग्रेस नेतृत्व ने भी किया था संपर्क…

सूत्र बताते हैं कि चंद्रबाबू नायडू को एनडीए का ‘संयोजक’ बनाए जाने को लेकर बात की गई है। पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने चंद्रबाबू नायडू से ऐसे समय पर बात की जब कुछ देर पहले ही उनसे कांग्रेस के नेतृत्व ने संपर्क साधा था।

गौरतलब है कि टीडीपी एनडीए में बीजेपी की सहयोगी है, ऐसे में अगर बीजेपी को अपने दम पर बहुमत नहीं मिलता है, तो वो चाहती है कि उसके गठबंधन में शामिल दल साथ में बने रहे। ऐसा इसलिए क्योंकि शुरुआती राउंड की गिनती में बीजेपी को अपने दम पर बहुमत नहीं मिलता दिख रहा है।

अब तक के रूझानों में भाजपा 240 सीटों के आसपास सिमटती दिख रही है। 543 सदस्यीय लोकसभा में बहुमत के लिए 272 सीटें चाहिए। हालांकि एनडीए पूर्ण बहुमत लाता दिख रहा है। वह दोपहर दो बजे के करीब 293 सीटें जीत चुका है या फिर बढ़त बनाए हुए है। लोकसभा चुनाव के रूझानों में भाजपा के अपने दम पर बहुमत से पीछे रह जाने के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम और टीडीपी के नेता एन चंद्रबाबू नायडू से बात की है।

किंगमेकर की भूमिका में हैं दो नेता…

भाजपा को बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में एनडीए के बड़े सहयोगी दलों की भूमिका अहम हो जाती है। इस चुनाव में आंध्र में टीडीपी और बिहार में नीतीश कुमार की जेडीयू बड़ी ताकत बनकर उभरे हैं। टीडीपी 16 सीटों पर आगे चल रही है, वहीं जेडीयू 14 सीटों पर आगे है। एनडीए के बहुमत हासिल करने में इन दोनों दलों की भूमिका काफी अहम है। ये दोनों नेता एक तरह से किंग मेकर की भूमिका में उभरे हैं।

एनडीए में ये दो नेता ऐसे हैं, जो बीते समय में मोदी विरोध के लिए जाने जाते हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले टीडीपी ने मोदी के खिलाफ मोर्चाबंदी करने में अहम भूमिका निभाई थी, दूसरी तरफ नीतीश कुमार हैं जिन्होंने चुनाव से ऐन पहले ही इंडिया गठबंधन छोड़कर एनडीए का दामन थामा था।

आंध्र विधानसभा में बन रही TDP की सरकार

बता दें कि आंध्र प्रदेश में विधानसभा चुनाव भी हुए थे। रुझानों में TDP 132 सीटों पर आगे चल रही है। बहुमत के चलते प्रदेश में TDP सरकार बनाने जा रही है, वहीं लोकसभा चुनाव में टीडीपी 16 सीटों पर आगे चल रही है, ऐसे में पार्टी प्रमुख नायडू की केंद्र में सरकार बनाने में अहम भूमिका हो गई है, यही वजह है कि चंद्रबाबू नायडू को NDA का संयोजक बनाने की अटकलें तेज हो गई हैं।

error: Content is protected !!