Trending Now

महासमुंद। कोतवाली थानाक्षेत्र के लालवानी गली स्थित लोहानी बिल्डिंग के कमरे मे दफन लाश की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है । हत्या किसी और ने नहीं बल्कि मृतक की पत्नी देविका चन्द्राकर व आशिक मुकुंद त्रिपाठी ने अवैध संबंध के चलते साथ मिलकर की थी। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लाश को दफनाने मे मदद करने वाली मृतक के सास की तलाश शुरू कर दी है ।

पेशे से शिक्षिका देविका चन्द्राकर ने 14 दिसंबर 2023 को महासमुंद के कोतवाली थाने में आकर सूचना दी कि उसका पति 8 दिसंबर से लापता है। पुलिस ने गुम इंसान कायम कर जांच शुरु की। पुलिस को 6 माह बाद जानकारी हुई कि आवेदिका का अपने पड़ोसी से अक्सर मोबाइल पर बातचीत होता था। पुलिस ने जब आवेदिका के मोबाइल का काल डिटेल निकाला तो कहानी प्रेस प्रसंग की ओर इशारा कर रहा था।

पुलिस ने ने इस मामले में आवेदिका के पड़ोसी ज्योतिषी मुकुंद त्रिपाठी को थाने में बुलाकर पूछताछ की तो मुकुंद ने पहले तो घुमाने का प्रयास किया, पर पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो मुकुंद टूट गया और पूरी कहानी बता दी। एसडीओपी अजय शंकर त्रिपाठी ने इस मामले का खुलासा करते हुए बताया कि आवेदिका देविका के पति (मृतक) यूपेश चंद्राकर को दोनों के प्रेम संबंध की जानकारी लग गयी थी और इसी बात को लेकर दोनो पति- पत्नी मे अक्सर झगड़ा हुआ करता था। चूंकि आवेदिका का पति शराब का आदि था इसलिए रोजाना विवाद हुआ करता था । घटना दिनांक 8 दिसंबर को दोपहर आवेदिका का पति यूपेश चन्द्राकर शराब पीकर आया और अपनी पत्नी से उसी बात को लेकर झगड़ा करने लगा। विवाद बढ़ने पर मृतक यूपेश ने डंडा लेकर अपनी पत्नी (आवेदिका ) देविका को मारना चाहा, तब तक उसका पडोसी व देविका का आशिक मुकुंद भी वहां आ गया । देविका ने अपने पति से डंडा छीन कर अपने पति के सिर पर दे मारा। उसके बाद आशिक पड़ोसी मुकुंद ने यूपेश को धक्का दे दिया, जिससे यूपेश जमीन पर गिर गया और तत्काल उसकी मौत हो गयी।

2 दिन तक घर पर छिपाकर रखा लाश को

हत्या के बाद देविका व उसकी मां अंजनी चन्द्राकर व मुकुंद ने मृतक यूपेश की लाश को प्लास्टिक के बोरी मे बांधकर मुकुंद के कमरे मे रख दिया। घटना के दो दिन बाद देविका व प्रेमी मुकुंद ने एक बाक्स मे भरकर उसे मुकुंद के आफिस लोहानी बिल्डिंग ले गये। जहां एक कमरे मे 5 फुट गहरा गड्ढा खोदकर दफना दिया। पुलिस ने मुकुंद के निशानदेही पर उसके आफिस से यूपेश की बाडी रिकवर कर हत्या मे प्रयुक्त डंडा, फावड़ा आदि जब्त कर धारा 201 , 302 ,34 के तहत मामला दर्ज कर आवेदिका देविका, प्रेमी मुकुंद को गिरफ्तार कर लिया है और लाश को ठिकाने लगाने मे मदद करने वाली मृतक के सास अंजनी चन्द्राकर की तलाश कर रही है।

error: Content is protected !!