Trending Now

0 कलेक्टर-एसपी के छापे से उजागर हुई जेल की अव्यवस्था

दुर्ग। सेंट्रल जेल में महादेव सट्टा ऐप और हत्या के आरोपी दीपक नेपाली, तपन सरकार और मुक्कू नेपाली जैसे अपराधियों को VIP ट्रीटमेंट मिल रहा है। इसका खुलासा तब हुआ जब दुर्ग कलेक्टर और एसपी जितेंद्र शुक्ला ने अपनी टीम के साथ मंगलवार देर रात केंद्रीय जेल दुर्ग का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ एएसपी अभिषेक झा और 96 पुलिस अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे। जब वे जेल की बैरक में पहुंचे तो चौंकाने वाली तस्वीर सामने आई। इस पर एसपी ने जेल अधीक्षक को जमकर फटकार लगाई।

जेल में बंद है कई कुख्यात अपराधी

दुर्ग जेल में कई कुख्यात अपराधी इस समय बंद हैं। इसमें सबसे चर्चित नाम गैंगस्टर तपन सरकार और उपेंद्र सिंह उर्फ कबरा काहै। गैंगेस्टर तपन पर हत्या सहित अन्य अपराध दर्ज हैं। उसे नवीन जेल के सेक्टर बी में एक बैरक में रखा गया था। उपेंद्र सिंह उर्फ कबरा वही अपराधी है, जिसने बिलासपुर जेल में पेशी जाते समय पूरी की पूरी ट्रेन हाईजैक कर ली थी। दीपक नेपाली महादेव सट्टा एप का बड़ा मास्टर माइंड है। वो भी यहां कई महीनों से यहां बंद है।

इस तरह मिल रहा है VIP ट्रीटमेंट

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने जब जेल के अंदर रेड मारी तो कई आपत्तिजनक चीजें पाई गईं। गैंगस्टर तपन सरकार, मुक्कू नेपाली, दीपक नेपाली और उपेंद्र कबरा जिस बैरक में हैं, वहां उन्हें VIP ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। इन सभी खुंखार आरोपियों को नवीन जेल परिसर में रखा गया है। जब एसपी, दुर्ग वहां पहुंचे तो देखा कि सभी आरोपी मोटे गद्दे में सोए थे। इनके गद्दे के नीचे से काजू, बादाम और किशमिश जैसे महंगे ड्राईफ्रूट मिले। जब SP ने इसके बारे में पूछा तो जेल अधीक्षक कोई जवाब नहीं दे पाए।

बैरक में मिले ये सामान

एएसपी अभिषेक झा ने बताया कि आगामी लोकसभा निर्वाचन को देखते हुए केंद्रीय जेल दुर्ग का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। इस दौरान बैरक से एक मोबाइल फोन, सिम, उस्तरा, ब्लेड और चाकू जैसे हाथ से बने औजारों के साथ ही इस्तेमाल किया चिलम, बीड़ी, सिगरेट और अन्य प्रतिबंधित सामान जब्त किया गया है। कलेक्टर और दुर्ग एसपी ने जेल के अधिकारियों और कर्मचारियों को जमकर फटकार लगाई और सजग होकर ड्यूटी करने के निर्देश दिए हैं।

धारदार चाकू के साथ मिले अपराधी

एसपी दुर्ग जितेंद्र शुक्ला ने बुधवार तड़के 4.45 बजे केंद्रीय जेल में छापेमारी की। इस दौरान केवल जेल प्रहरी ही ड्यूटी पर थे। इससे पहले कि वे कुछ समझ पाते और जेल अधीक्षक को सूचित कर पाते एसपी ने जेल को खुलवाकर खुद ही बैरक चेक करना शुरू कर दिया।इस दौरान उन्हें खुंखार अपराधियों के पास से सब्जी काटने वाले धारदार चाकू और मोबाइल फोन तक मिले। अपराधी धारदार चाकू लेकर सो रहे थे। निरीक्षण के बाद से जले में हड़कंप मचा हुआ है।

error: Content is protected !!