अहमदाबाद। बॉलीवुड के जानेमाने फिल्म डायरेक्टर राजकुमार संतोषी, जो ‘घायल’, ‘घातक’ और ‘अंदाज अपना अपना’ जैसी फिल्में बनाने के लिए जाने जाते हैं, जामनगर कोर्ट ने उन्हें एक पुराने मामले में 2 साल की सजा सुनाई है. दरअसल, ये मामला एक करोड़ रुपये के चेक बाउंस से जुड़ा हुआ है। 2 साल की सजा के साथ कोर्ट ने उन्हें चेक अमाउंट की दोगुनी रकम यानी 2 करोड़ रुपये भरने का आदेश भी दिया है।

उधार के करोड़ रूपये नहीं किये वापस

बताया जा रहा है कि राजकुमार संतोषी ने जामनगर के अशोकलाल नाम के एक व्यापारी से एक करोड़ रुपये उधार लिए थे। हालांकि उन्होंने वो रुपये वापस नहीं किए थे, जिसके बाद अशोकलाल ने उनके खिलाफ जामनगर कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। अशोकलाल के वकील के मुताबिक एक समय में दोनों अच्छे दोस्त हुआ करते थे। 2015 में उन्होंने उनसे एक करोड़ रुपये लिए थे। एक दफा राजकुमार संतोषी ने उधार चुकाने के लिए अशोकलाल को 10-10 लाख रुपये के 10 चेक भी दिए थे, लेकिन 2016 में वो सारे चेक बाउंस हो गए थे।

18 बार हुई सुनवाई, पर नहीं गए कोर्ट…

दरअसल, जब चेक बाउंस हुआ तो उसके बाद अशोकलाल राजकुमार संतोषी से बात करना चाहते थे, लेकिन उनसे उनकी बात नहीं हो पाई, जिसके बाद वो जामनगर कोर्ट पहुंच गए। बताया जा रहा है कि मामला जब कोर्ट में पहुंचा तो संतोषी 18 दफा सुनवाई से गायब रहे। वहीं अब उसी मामले को लेकर कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। 2 साल की सजा के साथ-साथ 2 करोड़ रुपये देने का भी आदेश दिया है।

बहरहाल, वर्कफ्रंट की बात करें तो बीते कुछ समय से वो अपनी अगली फिल्म ‘लाहौर 1947’ को लेकर चर्चा में चल रहे हैं। वो इस फिल्म को डायरेक्ट कर रहे हैं, जिसमें सनी देओल लीड रोल में नजर आने वाले हैं।

 

Loading

error: Content is protected !!