रायपुर। प्रदेश भर में शराब दुकानों के आसपास चलने वाले चखना सेंटरों पर प्रशासन का बुलडोजर चलना शुरू हो गया है। इस बीच आबकारी आयुक्त ने शराब दुकानों के पास अवैध रूप से संचालित चखना दुकानों को तत्काल बंद करने के लिए सभी ज़िला आबकारी अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिया है।

अधिक दर पर शराब बेची तो गिरेगी गाज

आबकारी आयुक्त ने निर्देश दिया है कि शराब दुकानों में कार्यरत प्लेसमेंट कर्मी सही दर पर मदिरा की बिक्री करें। इसके उल्लंघन पर तत्काल कार्यवाही की जाएगी। इन सभी पर निगरानी के लिए सभी अधिकारियों को फील्ड में दुकानों के निरीक्षण के निर्देश दिए गए हैं।

शिकायत हो तो TOLL FREE नंबर पर करें कॉल

आबकारी आयुक्त ने तमाम दिशा-निर्देशों के साथ ही आम लोगों के लिए एक टोल फ्री नंबर जारी किया है। इसके तहत शराब दुकानों में अधिक कीमत की वसूली या गुणवत्ता और अन्य परेशानियां होने पर
विभाग के टोल फ्री नंबर 14405 पर शिकायत की जा सकती है।

रायपुर जिले में सर्वाधिक कार्रवाई

बता दें कि आबकारी आयुक्त के इस निर्देश के पहले ही कई जिलों में अवैध रूप से संचालित दुकानों पर बुलडोजर चलना शुरू हो गया है। इनमे चखना दुकानें भी शामिल हैं। राजधानी रायपुर और पूरे जिले में 70 से अधिक शराब दुकानों के आसपास चलने वाली चखना दुकानों पर कार्रवाई जारी है। हालांकि अब ऐसे अवैध चखना सेंटरों को चिन्हित करने के लिए आबकारी अधिकारियों को जिम्मेदारी दे दी गई है, जिसके बाद कार्रवाई में और तेजी आने की उम्मीद है।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में शराब दुकानों का संचालन राज्य शासन के अधीन किया जाता है। आबकारी विभाग के माध्यम से प्लेसमेंट एजेंसियों द्वारा दुकानों में कर्मचारी उपलब्ध कराये गए हैं। इन शराब दुकानों के माध्यम से हुए बड़े घोटाले का ED ने भी पर्दाफाश किया है। वहीं प्रदेश भर की मदिरा दुकानों में अधिक दर पर शराब बेचे जाने जाने की शिकायतें आम हो गयी हैं। प्रदेश सरकार में बदलाव के चलते अब इन पर कार्यवाही के लिए अधिकारियों की सक्रियता बढ़ गई है।

Loading

error: Content is protected !!