तुमकुरु। यहां एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जिसमें सूदखोर के उत्‍पीड़न से परेशान एक परिवार के पांच सदस्‍यों ने फांसी लगाकर जान दे दी। अपनी जिंदगी खत्म करने से पहले परिवार के मुखिया ‘गरीब साब, ने डेथ नोट छोड़ा था और एक वीडियो भी बनाया था। वीडियो में उन्होंने बताया कि कैसे उसी इमारत के भूतल में रहने वाले व्यक्ति और उसके परिवार के सदस्यों ने उनके परिवार को प्रताड़ित किया और उन्हें यह कदम उठाने के लिए मजबूर किया। पूरा मामला कर्नाटक के तुमकुरु शहर का है।

आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ

पुलिस ने बताया कि यह घटना तुमकुरु शहर में रविवार रात सामने आई। पुलिस ने पांच आरोपियों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि अत्यधिक ब्याज दरों और उत्पीड़न के कारण एक ही परिवार के पांच लोगों ने आत्महत्या की है।

फांसी पर लटके मिले शव

दरअसल, चौंकाने वाली बात यह है कि परिवार पर आरोपी का केवल 1.5 लाख रुपये बकाया था। इसके चलते सदाशिवनगर इलाके में कबाब विक्रेता गरीब साब (36), उनकी पत्नी सुमैया (32), बेटी हजीरा (14), बेटे मोहम्मद शाभान (10) और मोहम्मद मुनीर (8) ने एक साथ फांसी लगा ली।

सपरिवार मारपीट करते थे आरोपी

गरीब साब ने मरने से पहले वीडियो में कहा था कि, ग्राउंड फ्लोर पर रहने वाला एक कलंदर राक्षस है। वह उसकी पत्नी और बच्चों पर अत्याचार करता है और उनके साथ मारपीट करता है। कलंदर अभद्र भाषा का भी प्रयोग करता है। कलंदर और उसके परिजन भी प्रताड़ना में शामिल थे।

अगर मैं मर गया तो…

गरीब साब ने वीडियो आगे कहा कि मेरी पत्नी और बच्चे डरते हैं कि अगर मैं मर गया, तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। इस डर से मेरी पत्नी और बच्चे भी मेरे साथ आत्महत्या कर रहे हैं। वहीं, इस घटना को लेकर तिलक पार्क पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों को हिरासत में लेने के बाद जांच में जुटी हुई है।

गृह मंत्री से भी लगाई गुहार

दंपती ने आरोपियों को सजा दिलाने के लिए गृह मंत्री डॉ. जी परमेश्वर से विशेष अनुरोध किया। उन्होंने कहा है कि ‘हमें कर्ज देकर उत्पीड़ित किया, गृह मंत्री जी सजा दिलाना’, गृहमंत्री परमेश्वर तुमकुरु इसी जिले के रहने वाले हैं।

Loading

error: Content is protected !!