पटना। बिहार के कटिहार से पुलिस ने उग्र भीड़ पर फायरिंग की। इसमें दो लोगों की मौत हो गई। वहीं एक व्यक्ति की हालत गंभीर है। घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। लोग पुलिस-प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। इलाके में तनाव का माहौल है। पुलिस का कहना है कि भीड़ के हमले में एक दर्जन पुलिसकर्मी और बिजली विभाग के कर्मी घायल हो गए। सभी घायलों का इलाज चल रहा है।

भीड़ को काबू करने पुलिस ने की हवाई फायरिंग

घटना कटिहार जिला के बारसोई थाना क्षेत्र की है। बताया जा रहा है कि बारसोई अनुमंडल में पौने तीन बजे बिजली विभाग के रवैये से गुस्साए लोग प्रखंड मुख्यालय का घेराव करने पहुंचे थे। प्राणपुर के बस्तौल चौक और बारसोई प्रखंड मुख्यालय का मुख्य मार्ग जाम कर लोगों ने प्रदर्शन करे रहे थे। अचानक लोग उग्र हो गए। जिसे नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने पहले लाठीचार्ज और फिर हवाई फायरिंग करने लगी। पुलिस की इस कार्रवाई के बाद भीड़ और ज्यादा उग्र हो गई और पुलिस को खदेड़ने लगी। पुलिस ने बचाव में फायरिंग की। इसमें तीन लोगों को गोली लग गई। इसमें से एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं दो लोगों की हालत गंभीर है।

नेता प्रतिपक्ष ने लगाया ये आरोप

नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा ने इस घटना की निंदा की और बिहार सरकार का विरोध जताया। उन्हाेंने कहा कि बिहार सरकार लोगों को आवाज को लाठी और बंदूक के बल पर दबा रही है। 13 जुलाई को भाजपा कार्यकर्ताओं पर बेरहमी से लाठियां बरसाई गई। आज कटिहार में बिजली की मांग को लेकर सड़क पर उतरे लोगों पर गोलियां बरसाई गई। इस मामले की न्यायिक जांच होनी चाहिए। यह सरकार पूरी तरह से प्रशासनिक अराजकता का शिकार हो चुकी है। इस सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई औचित्य नहीं है। कोई इनके भ्रष्टाचार और अपराध पर प्रश्न उठाता है तो उन्हें लाठी और गोली खानी पड़ती है। ऐसी सरकार लोकतंत्र के हित में नहीं है। महागठबंधन सरकार सत्ता में रहने का हक खो चुकी है।

भीड़ ने पुलिस को खदेड़ दिया था

इधर, घटना की सूचना मिलते ही कटिहार एसपी मौके पर पहुंचे और जांच में जुट गई। एसपी ने मामले की जांच करवाने की बात कहा। उन्होंने कहा कि भीड़ को पहले बातचीत के जरिए समझाने की काफी कोशिश की लगी। लेकिन, वह नहीं माने और पुलिस के साथ झड़प करने लगे। इतना ही नहीं भीड़ ने पुलिस को दौड़ा भी दिया। अंत में हालात को नियंत्रण करने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करना पड़ा। ग्रामीणों के अनुसार, मरने वाले की पहचान बारसोई अनुमंडल के वासल गांव निवासी 34 वर्षीय खुर्शीद आलम के रूप में हुई। वहीं घायल की पहचान बारसोई के चापाखोड़ पंचायत निवासी 32 वर्षीय नियाज आलम के रूप में हुई है। तीसरे घायल की पहचान की जा रही है

Loading

error: Content is protected !!