Trending Now
FRAUD

अंबिकापुर। देशभर में बैठे साइबर ठग अलग-अलग तरीके अपनाकर लोगों को आर्थिक नुकसान पहुंचा रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में क्रेडिट कार्ड में जारी सेवाओं में बदलाव के नाम पर ठगी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के चार आरोपियों को सरगुजा पुलिस ने शेखपुरा बिहार से गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से घटना में प्रयुक्त 8 मोबाइल, 7 एटीएम कार्ड, 3 मोबाइल सिम कार्ड एवं एक पैन कार्ड, 4 आधार कार्ड बरामद किया गया है।

सरगुजा ASP विवेक शुक्ला ने बताया कि गांधीनगर थाना क्षेत्र की नमनाकला निवासी जैनिफर लकड़ा ने थाना गांधीनगर आकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 18 फरवरी को उसे एक अज्ञात महिला ने फ़ोन कर स्वयं को संबंधित बैंक की क्रेडिट कार्ड शाखा की अधिकारी बताकर क्रेडिट कार्ड में जारी सेवाओं में बदलाव कराने की बात बोलकर झांसे में लिया। फिर ओटीपी भेजकर उससे 144000/-रुपये की ठगी कर ली गई। प्रार्थिया की रिपोर्ट पर थाना गांधीनगर में सदर धारा का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज राम गोपाल गर्ग के सतत मार्गदर्शन ने पुलिस अधीक्षक सरगुजा सुनील शर्मा के निर्देशन में साइबर ठगी के मामलों में त्वरित कार्रवाई कर आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए दिशा निर्देश दिए गए थे। इसी कड़ी में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला, नगर पुलिस अधीक्षक स्मृतिक राजनाला, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस अखिलेश कौशिक के नेतृत्व मे संयुक्त टीम का गठन कर आरोपियों का पता तलाश किया जा रहा था।

जांच दौरान आरोपियों के संबंध में साइबर सेल से तकनीकी जानकारी मिली। जिसके बाद संयुक्त टीम आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु शेखपुरा बिहार भेजी गई। संयुक्त पुलिस टीम द्वारा मामले मे शामिल आरोपियों की घेराबंदी कर उन्हें पकड़ा गया और पूछताछ की गई।

आरोपियों द्वारा अपना नाम सुनील कुमार (27)गोपायीचक बिहार , संतोष पासवान (30) सरईया बिहार, राजकुमार पासवान (27) सरईया बिहार, उत्तम पासवान (22) सरईया बिहार का होना बताया। आरोपियों से घटना के संबंध में पूछताछ करने पर प्रार्थिया को झांसे मे लेकर क्रेडिट कार्ड का ओटीपी लेकर 1 लाख 44 हजार की ठगी कारित करना स्वीकार किया गया। आरोपियों के विरुद्ध अपराध सबूत पाए जाने से गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है।

error: Content is protected !!