Trending Now

0 जिम ट्रेनर को उकसाने के आरोप में किया गया था गिरफ्तार, अब डॉक्टर पति भी शक के दायरे में

बिलासपुर। जिला अस्पताल की चिकित्सक डॉ. पूजा चौरसिया की मौत को आत्महत्या मानकर पुलिस ने उसे उकसाने के आरोप में एक जिम ट्रेनर को गिरफ्तार किया था, लेकिन उसकी मां ने हार नहीं मानी। उसने एक प्राइवेट फोरेंसिक एक्सपर्ट की मदद लेकर ऐसे सबूत जुटा लिए हैं, जिससे पता चलता है कि महिला डॉक्टर की हत्या की गई है। इसमें जिम ट्रेनर के अलावा डॉक्टर के पति डॉक्टर की भूमिका भी सवालों के घेरे में है। मृतका की मां ने पहले से ही हत्या की आशंका जताई थी।

मां के घर फंदे पर मिला था शव

बिलासपुर जिले के बिल्हा में पदस्थ मेडिकल ऑफिसर डॉ. पूजा चौरसिया का शव उसके मायके में 10 मार्च को फांसी के फंदे पर लटका मिला था। डॉ. पूजा ने डॉ. अनिकेत कौशिक से सन् 2019 में प्रेम विवाह किया था और शहर के दूसरे छोर सरकंडा इलाके में उनके साथ ही रहती थी। घटना जब हुई तब डॉ. पूजा की मां अमेरिका में अपने बेटे के पास गई थी। कुछ दिन पहले अमेरिका में ही उनके पति का निधन हो गया था। मां के अमेरिका जाने के बाद वह बाबजी कॉलोनी तिफरा स्थित अपने मायके के घर को देखने के लिए सरकंडा से आना-जाना करती थी। कई बार अस्पताल की ड्यूटी खत्म होने के बाद वह मायके के घऱ में आकर रुक जाती थी।

पति ने अवसाद के चलते जताई आत्महत्या की आशंका

इस मामले में पहले जो कहानी सामने आई थी उसके मुताबिक 10 मार्च रविवार की शाम को भी वह मायके में रुकने की बात पति से कहकर गई। रात में पति अनिकेत को किसी ने बताया कि घर के भीतर एक शव फंदे पर लटका हुआ है। डॉक्टर तुरंत अपने एक दोस्त को साथ लेकर वहां पहुंचा। उन्होंने घर का दरवाजा तोड़ा और शव को नीचे उतारा। घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला । पति ने पुलिस को बताया कि पिता की मौत के बाद वह अवसाद में रहती थी। हो सकता है इसी वजह से उसने अपनी जान दे दी।

पुलिस ने आत्महत्या का मामला मानते हुए जांच आगे बढ़ाई। सूचना मिलने पर डॉ. पूजा की मां रीता चौरसिया तुरंत अपने बेटे के साथ अमेरिका से रवाना हो गई। उन्होंने 13 मार्च को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि उसे अपनी बेटी की हत्या की आशंका है, वह आत्महत्या नहीं कर सकती। उसके शरीर में कई जगहों पर खून के निशान है। नाक से खून बहा है, सिर में चोट लगी है। जिस ऊंचाई पर वह लटकी मिली है, वहां तक वह अकेले नहीं पहुंच सकती।

पड़ोसियों ने धक्का मुक्की और तेज आवाजें सुनी

रविवार की शाम को 8:30 बजे दामाद अनिकेत ने सिर्फ एक शब्द मम्मी बोला और फोन काट दिया। घबराकर उन्होंने अपने किराएदार से बात की। उसे पता चला कि बेटी पूजा फांसी पर लटकी हुई मिली है। किराएदार ने यह भी बताया कि नीचे के कमरे से घटना के कुछ देर पहले धक्का मुक्की और तेज बातचीत की आवाज आ रही थी।

मां रीता चौरसिया ने बताया कि महाशिवरात्रि के दिन बेटी ने फोन करके रोते हुए बताया था कि ससुराल में निर्माणाधीन मकान में पैसे लगाने को लेकर डॉ अनिकेत उसे प्रताड़ित कर रहा है। तब घर पर सूरज पांडे नाम का एक युवक मौजूद था। उसी ने डॉक्टर अनिकेत को फोन करके आत्महत्या की सूचना दी। मगर मकान के किसी भी कमरे की कोई खिड़की या दरवाजा बंद नहीं था। उनके घर के आसपास सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। संदिग्ध लोगों की मौजूदगी का मोबाइल लोकेशन भी मिल जाएगा।

पुलिस ने जिम ट्रेनर को किया गिरफ्तार

इस शिकायत के बावजूद पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया, बल्कि घटना के करीब एक माह बाद पुलिस ने एक जिम ट्रेनर सूरज पांडेय को गिरफ्तार किया। पुलिस ने दावा किया था कि दोनों के बीच प्रेम प्रसंग था। पुलिस के अनुसार आत्महत्या की सूचना मिली तो डॉक्टर पति अनिकेत कौशिक के पहुंचने के साथ साथ वह भी बाबजी कॉलोनी पहुंच गया था और उसने फांसी के फंदे से शव उतारने में मदद भी की थी। पूछताछ में सूरज पांडेय ने बताया कि करीब एक साल से उसका मृतका से प्रेम संबंध था। मगर, बाद में उसने ज्यादा मेलजोल रखना ठीक नहीं समझा और दूरी बनाने लगा। इसके चलते उसने जान दे दी। पुलिस ने उसे आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

मां ने प्राइवेट फोरेंसिक एक्सपर्ट की ली मदद

मगर मां ने हार नहीं मानी। उन्होंने प्राइवेट फोरेंसिक एक्सपर्ट की मदद लेने की सोची। आत्महत्या की घटना के बाद पुलिस ने जब उनका घर सील बंद किया तो उन्होंने होटल में रुकने का निर्णय लिया ताकि सबूतों से कोई छेड़छाड़ न हो। एक्सपर्ट की जांच में पाया गया कि पूजा के कमरे से महिला के अलावा किसी पुरुष के स्पर्म व बाल भी मिले हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने से पहले ही निजी एक्सपर्ट ने बता दिया कि बिस्तर पर संघर्ष हुआ है। जिस पंखे पर फांसी लगाने की बात की गई है, उसमें डॉ. पूजा के फिंगर प्रिंट नहीं मिले हैं। डॉ. पूजा के सिर, पीठ और नाक में चोट के निशान हैं। उस पर किसी भारी वस्तु से प्रहार किया गया है।

केस फाइल फिर से खोलने की अनुमति लेगी पुलिस

मां रीता चौरसिया ने एक्सपर्ट से कराई गई जांच की रिपोर्ट पुलिस को सौंपी है। सीएसपी उमेश गुप्ता का कहना है कि वरिष्ठ अधिकारियों से इस केस की फाइल फिर से खोलने की अनुमति ली जाएगी और जांच में आए नए तथ्यों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

इस खुलासे के बाद पहले गिरफ्तार किए जा चुके जिम ट्रेनर सूरज पांडेय ही नहीं बल्कि मृतक महिला डॉक्टर के पति डॉ. अनिकेत कौशिक की भूमिका भी शक के दायरे में आ गई है।

error: Content is protected !!