Trending Now

गुवाहाटी। असम के धुबरी लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार रकीबुल हुसैन ने भारी मतों से जीतकर सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। उन्होंने अमित शाह और शिवराज सिंह चौहान ही नहीं भाजपा उम्मीदवार शंकर लालवानी को भी पीछे छोड़ दिया है।

अजेय प्रत्याशी को धूल चटा दिया

कांग्रेस उम्मीदवार रकीबुल हुसैन की सुनामी धुबरी लोकसभा क्षेत्र को नहीं बहा पाई है। एआईयूडीएफ (AIUDF) प्रमुख बदरुद्दीन अजमल का घमंड और वोट शेयर इस सुनामी की प्रचंड लहर में बह गया। न केवल अजेय अजमल का दौर खत्म हुआ, बल्कि कांग्रेस उम्मीदवार रकीबुल हुसैन ने रिकॉर्ड मतों के अंतर से जीत दर्ज की। यह पूरे देश में सबसे अधिक मत है।

रकीबुल ने तोड़ा रिकॉर्ड

असम के धुबरी लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार रकीबुल हुसैन ने रिकॉर्ड 10,12,476 वोटों से जीत दर्ज की है। रकीबुल हुसैन के बाद मध्य प्रदेश के इंदौर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा उम्मीदवार शंकर लालवानी हैं। शंकर लालवानी ने बसपा उम्मीदवार संजय सोलंकी को 10,04,077 वोटों से हराया।

राज्य में कांग्रेस विधायक दल के उपनेता रकीबुल हुसैन ने इस बार सामगुरी विधानसभा क्षेत्र छोड़कर एआईयूडीएफ प्रमुख बदरुद्दीन अजमल के गढ़ धुबरी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा. चुनाव से पहले सबके मन में यह सवाल था कि क्या हुसैन अजमल को हरा पाएंगे, जो लगातार चौथी बार संसद पहुंचने की उम्मीद लगाए बैठे हैं?

वोटों की आयी सुनामी

कांग्रेस उम्मीदवार रकीबुल हुसैन ने इस सीट पर पार्टी का टिकट मिलने के बाद बदरुद्दीन अजमल को कड़ी चुनौती दी थी. जब 4 जून को नतीजे घोषित हुए तो रकीबुल हुसैन ने न केवल अजमल को उनके किले से बाहर कर दिया बल्कि 3 बार के सांसद को करारी शिकस्त भी दी. 4 जून की रात को मतगणना पूरी होने के बाद जनता ने जो जनादेश दिया. उसके अनुसार रोकिबुल हुसैन को 14,71,885 वोट मिले, जबकि अजमल को 4,59,409 वोट मिले. वहीं एनडीए गठबंधन समर्थित एजीपी उम्मीदवार जाबेद इस्लाम को 4,38,594 वोट मिले.

रकीबुल को बताया चुनाव का हीरो

लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजों में जब रकीबुल हुसैन ने रिकॉर्ड मतों से जीत दर्ज की तो यह चर्चा का विषय बन गया. मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्वा सरमा ने कांग्रेस के रकीबुल हुसैन को हीरो बताया. मुख्यमंत्री सरमा ने कहा कि रकीबुल हुसैन इस बार असम में लोकसभा चुनाव में हीरो बन गए हैं और यह राष्ट्रीय संदर्भ में एक रिकॉर्ड है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह को भी रकीबुल हुसैन जितने लाखों वोट नहीं मिले हैं.

सबसे ज्यादा वोट पड़े धुबरी में

गौरतलब है कि असम के धुबरी निर्वाचन क्षेत्र ने इस चुनाव में पूरे देश का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया. धुबरी लोकसभा क्षेत्र ने देश में सबसे ज्यादा मतदान का रिकॉर्ड (HIGHEST VICTORY MARGINS) बनाया है. यहाँ कुल 92.08 प्रतिशत मतदान हुआ.

धुबरी, लोकसभा चुनाव 2024 के बारे में संक्षिप्त आंकड़े ::

1. मतदाताओं की कुल संख्या: 26,60, 827

2. मतदान करने वालों की कुल संख्या: 24.5 लाख

3. मतदान दर: 92.08 प्रतिशत

4. विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की संख्या: 11

जानिए रकीबुल हुसैन के बारे में

ज्ञात हो कि रकीबुल हुसैन का जन्म 07 अगस्त, 1964 को नगांव जिला में हुआ था. उन्होंने नगांव कॉलेजसे बीए की पढ़ाई की. हुसैन ने वर्ष 2001 में नगांव जिलांतर्गत सामागुड़ी विधानसभाक्षेत्र से पहली बार चुनाव लड़ा था. उसके बाद से वे लगातार जीत हासिल करते आ रहे हैं. हुसैन 2001-06, 2006-11, 2011-16, 2016-21, 2021-26 विधायक है. विधानसभा में उप नेताप्रतिपक्ष हैं. तत्कालीन कांग्रेस नेतृत्वाधीन तरुण गोगोई सरकार में 2016 तकविभिन्न मंत्रालयों का मंत्री पद संभाल चुके हैं.

error: Content is protected !!