Trending Now

भोपाल। बांधवगढ़ में दो युवकों पिटाई पर मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कहा है कि मध्य प्रदेश में सुशासन की सरकार है। प्रदेश में आमजन से इस तरह का अमानवीय व्यवहार बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

निलंबन के दिए आदेश

बांधवगढ़ में दो युवकों के साथ एसडीएम (SDM) की बर्बरता को मुख्यमंत्री मोहन यादव (Mohan Yadav) ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने इस मामले के बाद सोशल मीडिया साइट एक्स पर लिखा कि एसडीएम द्वारा दो युवकों से मारपीट की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने आगे लिखा कि एसडीएम को निलंबित करने के निर्देश दिए हैं। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सुशासन की सरकार है। प्रदेश में आमजन से इस तरह का अमानवीय व्यवहार बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

ये है मामला

जिले में एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया, जिसमें सोमवार को वाहन को ‘ओवरटेक’ करने को लेकर एक उप-संभागीय मजिस्ट्रेट (एसडीएम) की उपस्थिति में दो लोगों की कथित तौर पर पिटाई कर दी गई। युवकों की पिटाई का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। हालांकि, बांधवगढ़ में तैनात एसडीएम अमित सिंह ने इस बात से इनकार किया कि उनकी मौजूदगी में दोनों युवकों को पीटा गया। उन्होंने कहा कि उनमें से एक अपनी कार लापरवाही से चला रहा था और उनके सरकारी वाहन को टक्कर मारने वाला था। इसके उलट वीडियो में एसडीएम और अन्य से घिरे कुछ व्यक्तियों को लोगों का एक समूह लाठियों से पीटता दिखाई दिया।

पीड़ित ये बताई कहानी

पीड़ितों में से एक प्रकाश दहिया ने दावा किया कि एसडीएम लिखी गाड़ी में बैठे लोग नीचे उतरे और ‘ओवरटेक’ करने को लेकर उनकी तथा दूसरी कार में सवार भरौला गांव निवासी शिवम यादव की पिटाई कर दी। वहीं, दूसरी ओर, एसडीएम अमित सिंह ने कहा कि वह अपने वाहन से क्षेत्रों का दौरा कर रहे थे, क्योंकि अयोध्या में रामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए थे। उन्होंने कहा कि जिस कार में पीड़ित बैठे थे, वह तेज गति से आ रही थी और उनके चालक ने किसी तरह हादसा होने से रोक लिया.

एसडीएम, तहसीलदार के खिलाफ एफआईआर

पुलिस ने इस मामले में एसडीएम अमित सिंह, तहसीलदार विनोद वर्मा के साथ ही चालक और एक अन्य के खिलाफ FIR दर्ज कराई है। इसमें आईपीसी की धारा 323, 254, 341, 34 के तहत अपराध दर्ज किया गया है। कोतवाली थाना प्रभारी राजेश चंद्र मिश्रा ने बताया कि एसडीएम, तहसीलदार के साथ ही दो अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

error: Content is protected !!