रायपुर। छत्तीसगढ़ में सत्ता परिवर्तन के बाद आज मुख्यमंत्री के पद पर विष्णु देव साय के नाम की घोषणा कर दी गई। साथ ही विधान सभा अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री के नाम को भी स्वीकृति दे दी गई है। राज्य में दो उप मुख्यमंत्री होंगे और प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव एवं विजय शर्मा को डिप्टी सीएम बनाया जाएगा। जबकि पूर्व डॉ सीएम रमन सिंह विधानसभा के पद पर पदस्थ होंगे।

बीजेपी ने मुख्यमंत्री पद के लिए जहां आदिवासी नेता विष्णुदेव साय का चुनाव किया है, वहीं उप मुख्यमंत्री के रूप में अरुण साव और विजय शर्मा का चयन किया गया है। इनमें अरुण साव ओबीसी समाज से आते हैं, वहीं विजय शर्मा ब्राम्हण समाज के हैं और कबीरधाम जिले के कर्वधा से बीजेपी विधायक हैं। उन्होंने कद्दावर मंत्री रहे मोहम्मद अकबर को 39,592 वोटों के अंतर से हराया है।

विजय शर्मा छत्तीसगढ़ बीजेपी के प्रदेश महासचिव हैं। इसके पहले भाजपा युवा मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं। 50 वर्षीय विजय शर्मा पहली बार विधायक बने हैं। अरुण साव ने मुंगेली जिले की लोरमी सीट से कांग्रेस प्रत्याशी थानेश्वर साहू को 45891 वोटों से हराया है। वह फिलहाल बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष हैं। पिछले साल अगस्त महीने में ही उन्हें विष्णु देव साय की जगह प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई थी। वह बिलासपुर लोकसभा सीट से सांसद रहे हैं। विधायक निर्वाचित होने के बाद केंद्रीय नेतृत्व ने उनसे सांसद के पद से इस्तीफा मांगा था। विजय शर्मा की तरह 55 वर्षीय अरुण साव भी पहली बार विधायक निर्वाचित हुए हैं।

बीजेपी की तरफ से विधानसभा अध्यक्ष के पद के लिए चुने गए रमन सिंह छत्तीसगढ़ की बीजेपी सरकार में तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके हैं। इस बार भी वह मुख्यमंत्री पद की रेस में शामिल थे, लेकिन पार्टी ने उनके अनुभव का इस्तेमाल असेंबली स्पीकर के रूप में करने का फैसला किया है। रमन सिंह ने अपने पारंपरिक सीट राजनांदगांव से चुनाव जीता है।

Loading

error: Content is protected !!