Trending Now

मुंगेली। लोरमी विधानसभा में पिछले दिनों जोगी कांग्रेस से दो-दो नामांकन का जो दिलचस्प मामला सामने आया था, उस पर विराम लग गया है। लोरमी विधानसभा की रिटर्निंग ऑफिसर पार्वती पटेल ने मनीष त्रिपाठी का B फॉर्म निरस्त कर दिया है, वहीं सागर सिंह का B फॉर्म स्वीकार किया गया है। आरओ और लोरमी एसडीएम पार्वती पटेल ने बताया कि सागर सिंह के B फॉर्म में पूर्व में जारी मनीष त्रिपाठी के B फॉर्म को निरस्त किया जाता है, का उल्लेख किया गया था, जिसके आधार पर मनीष त्रिपाठी का B फॉर्म निरस्त किया गया है। लोरमी सीट से बड़े दिग्गज चुनाव लड़ रहे हैं।

दरअसल JCCJ ने लोरमी विधानसभा सीट से कांग्रेस से जोगी कांग्रेस में आए सागर सिंह बैस को अपना प्रत्याशी बनाया है। वहीं इससे पहले लंबे समय से इस सीट पर तैयारी कर रहे जेसीसीजे के विधानसभा प्रभारी मनीष त्रिपाठी ने भी अपना नामांकन जमा कर दिया था। उन्हें पहले ही पार्टी की ओर से बी फार्म जारी कर दिया गया था। इस बीच कांग्रेस जिला अध्यक्ष सागर सिंह बैस के जोगी कांग्रेस ज्वाइन करने पर उन्हें प्रत्याशी बना दिया गया। चूंकि सागर सिंह बैस ने बाद में B फॉर्म जमा किया था, इसलिए उनका फॉर्म स्वीकार कर लिया गया।

मनीष ने सांठगांठ का आरोप लगाया

B फॉर्म निरस्त हो जाने के बाद मनीष त्रिपाठी ने जोगी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी और सागर सिंह पर सांठगांठ का गंभीर आरोप लगाया है। उनका कहना है कि जब जोगी कांग्रेस द्वारा निर्वाचन आयोग को शिकायत करते हुए मेरे B फॉर्म को कूटरचित बताया गया है, तो फिर मेरे B फॉर्म को उसी पार्टी द्वारा निरस्त करने क्यों लिखा गया है? वहीं अब मनीष त्रिपाठी का B फॉर्म निरस्त होने के बाद अब वे निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ सकेंगे। हालांकि यह भी पता चला है कि उन्होंने चुनाव मैदान छोड़ दिया है।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष हैं मैदान में

विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 26 लोरमी पहले से ही हाई प्रोफ़ाइल सीट बन गई है, क्योंकि यहां से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं कांग्रेस की ओर से राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष रहे थानेश्वर साहू मैदान में हैं। अब जोगी कांग्रेस से कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष रहे दमदार नेता सागर सिंह बैस चुनाव लड़ रहे हैं, जिन्होंने टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर जोगी कांग्रेस का दामन थामा था। जानकार बताते हैं कि सागर बैस या तो भाजपा और कांग्रेस का चुनावी समीकरण बिगाड़ देंगे, या फिर वे खुद भी चुनाव में बाजी भी मार सकते हैं, क्योंकि आम-अवाम के बीच उनकी अच्छी साख बताई जा रही है।

मनीष त्रिपाठी के खिलाफ दर्ज हुआ FIR

बीते दिनों मुंगेली के निर्वाचन कार्यालय में B फॉर्म को लेकर हुए विवाद के दौरान जोगी कांग्रेस नेता मनीष त्रिपाठी द्वारा निर्वाचन अधिकारी से की गई हुज्जतबाजी के चलते मनीष सहित 4 नेताओं के खिलाफ FIR दर्ज करा दिया गया है। आरोपियों के द्वारा धारा 186, 34 IPC का अपराध घटित करना पाये जाने के चलते उनके खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया गया। इस मामले में सहायक रिटर्निंग ऑफिसर गरिमा मनहर अनंत द्वारा मनीष त्रिपाठी, सीमा त्रिपाठी, कैलाश श्रीवास और राजा त्रिपाठी के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने का प्रकरण दर्ज कराया गया है।

error: Content is protected !!